Tech News

Paytm Launches Android Mini App Store To Take On Google Play Store – Paytm ने गूगल को दिया करारा जवाब, लॉन्च किया पहला देसी एप स्टोर

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली

Updated Mon, 05 Oct 2020 10:54 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

भारत की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम ने गूगल को करारा जवाब देते हुए पहला देसी एप स्टोर लॉन्च कर दिया है। पेटीएम ने अपने इस एंड्रॉयड एप स्टोर को मिनी एप स्टोर (Mini App Store) नाम दिया है। पेटीएम ने कहा है कि उसने इस एप स्टोर को भारतीय डेवलपर्स की मदद करने के लिए पेश किया है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही गूगल ने पेटीएम पर गैंबलिंग का आरोप लगाते हुए प्ले-स्टोर से पेटीएम एप को हटा दिया था जिसके बाद से ही पेटीएम समेत कई कंपनियों ने गूगल की आलोचना कर रही हैं।

कैसा है पेटीएम का एप स्टोर?

पेटीएम का मिनी एप स्टोर भी गूगल प्ले-स्टोर जैसे किसी एप स्टोर की तरह ही है। मिनी एप स्टोर पर मिनी एप्स पब्लिश होंगे जिनका इंटरफेस मोबाइल एप की तरह ही होगा। पेटीएम मिनी एप स्टोर पर डेवलपर्स पेटीएम पेमेंट बैंक, पेटीएम वॉलेट, नेट-बैंकिंग, यूपीआई और कार्ड्स से पेमेंट ले सकेंगे। पेटीएम ने कहा है कि वह डेवलपर्स से एप या कंटेंट बिक्री के लिए पैसे नहीं लेगा। बता दें हाल ही में गूगल ने कहा है कि यदि कोई डेवलपर प्ले-स्टोर से कोई एप या कंटेंट बेचता है तो उसे 30 फीसदी गूगल का देना होगा।

छोटे डेवलपर्स को होगा फायदा

Paytm का कहना है कि उसके मिनी एप स्टोर का फायदा कम बजट वाले और छोटे डेवलपर्स को मिलेगा। मिनी एप स्टोर पर एचटीएमएल और जावास्क्रिप्ट पर डेवलप हुए एप पब्लिश होंगे। इस स्टोर पर Decathalon, Ola, Park+, Rapido, Netmeds, 1MG, Domino’s Pizza, FreshMenu, NoBroker जैसे 300 से अधिक एप लिस्ट हो चुके हैं। पेटीएम का एप स्टोर फिलहाल बीटा वर्जन में है और पिछले महीने इस पर 12 मिलियन विजिट हुए थे।

सार

  • डेवलपर्स को गूगल की तरह नहीं देना होगा टैक्स
  • फिलहाल बीटा वर्जन में है पेटीएम मिनी एप स्टोर
  • गूगल प्ले-स्टोर से है सीधा मुकाबला

विस्तार

भारत की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम ने गूगल को करारा जवाब देते हुए पहला देसी एप स्टोर लॉन्च कर दिया है। पेटीएम ने अपने इस एंड्रॉयड एप स्टोर को मिनी एप स्टोर (Mini App Store) नाम दिया है। पेटीएम ने कहा है कि उसने इस एप स्टोर को भारतीय डेवलपर्स की मदद करने के लिए पेश किया है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही गूगल ने पेटीएम पर गैंबलिंग का आरोप लगाते हुए प्ले-स्टोर से पेटीएम एप को हटा दिया था जिसके बाद से ही पेटीएम समेत कई कंपनियों ने गूगल की आलोचना कर रही हैं।

कैसा है पेटीएम का एप स्टोर?

पेटीएम का मिनी एप स्टोर भी गूगल प्ले-स्टोर जैसे किसी एप स्टोर की तरह ही है। मिनी एप स्टोर पर मिनी एप्स पब्लिश होंगे जिनका इंटरफेस मोबाइल एप की तरह ही होगा। पेटीएम मिनी एप स्टोर पर डेवलपर्स पेटीएम पेमेंट बैंक, पेटीएम वॉलेट, नेट-बैंकिंग, यूपीआई और कार्ड्स से पेमेंट ले सकेंगे। पेटीएम ने कहा है कि वह डेवलपर्स से एप या कंटेंट बिक्री के लिए पैसे नहीं लेगा। बता दें हाल ही में गूगल ने कहा है कि यदि कोई डेवलपर प्ले-स्टोर से कोई एप या कंटेंट बेचता है तो उसे 30 फीसदी गूगल का देना होगा।

छोटे डेवलपर्स को होगा फायदा
Paytm का कहना है कि उसके मिनी एप स्टोर का फायदा कम बजट वाले और छोटे डेवलपर्स को मिलेगा। मिनी एप स्टोर पर एचटीएमएल और जावास्क्रिप्ट पर डेवलप हुए एप पब्लिश होंगे। इस स्टोर पर Decathalon, Ola, Park+, Rapido, Netmeds, 1MG, Domino’s Pizza, FreshMenu, NoBroker जैसे 300 से अधिक एप लिस्ट हो चुके हैं। पेटीएम का एप स्टोर फिलहाल बीटा वर्जन में है और पिछले महीने इस पर 12 मिलियन विजिट हुए थे।

पेटीएम मिनी एप स्टोर की लॉन्चिंग पर कंपनी के फाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा, ‘मुझे गर्व है कि हम आज कुछ ऐसा लॉन्च कर रहे हैं जो हर भारतीय एप डेवलपर के लिए एक अवसर पैदा करता है। पेटीएम मिनी एप स्टोर हमारे युवा भारतीय डेवलपर्स को नए इनोवेशन का मौका देता है।’

Source link

Leave a Reply