चंदन की मदद से ऐसे दूर करें अपने चेहरे की झाइयां,

Benefits of sandalwood. हिंदू शास्त्रों में चंदन को बहुत पवित्र पूजा सामग्री के रूप में जाना जाता है। इसकी लकड़ी लाल रंग की होती है । सिर्फ यही नहीं प्राचीन काल से ही चंदन की लकड़ी का इस्तेमाल कई औषधियों में भी किया जाता है। लोगों को ऐसा मानना है कि चंदन का टीका लगाने से दिमाग शांत रहता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आप चंदन का इस्तेमाल(Benefits of sandalwood) अपने चेहरे की देखभाल के लिए भी कर सकते हैं। हालांकि चंदन का इस्तेमाल आजकल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स में भी बड़े पैमाने पर किया जा रहा है।

चंदन के इस्तेमाल से पिगमेंटेशन और मुंहासे जैसी कई त्वचा संबंधी छोटी-छोटी समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। आज हम आपको चंदन के कुछ फायदें(Benefits of sandalwood) बताने जा रहे हैं। साथ ही आपको बताने जा रहे हैं चंदन के फेस पैक की आसान विधियां जिसकी मदद से आप भी अपने चेहरे की पिगमेंटेशन और मुहांसों की समस्या से छुटकारा पा सकेंगे।

चंदन के फायदें:

1. मुहांसों को करें दूर

लाल चंदन की मदद से आप अपने चेहरे के अनचाहे मुहांसों को दूर कर सकते हैं। लाल चंदन में मौजूद गुण आपके चेहरे की गंदगी का सफाया करने का काम करेंगे। इसके इस्तेमाल के लिए आपको चन्दन पाउडर में बस एक चम्मच दही ऐड करना होगा। अब इन दोनों चीजों को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। और 15 मिनट के लिए अपने चेहरे पर लगा लें। जब यह समय बीत जाएं तो अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। यदि आप हफ्ते में एक या दो बार इस फेसपैक का इस्तेमाल करेंगे तो आपको मुंहासे से छुटकारा मिल जाएगा।

2. त्वचा से करें पिगमेंटेशन का सफाया

लाल चंदन की मदद से आप अपने चेहरे की पिगमेंटेशन की परेशानी से भी छुटकारा पा सकते हैं। वर्तमान समय में कई कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स में लाल चंदन का इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि लाल चंदन में मौजूद गुण पिगमेंटेशन के निशानों को हल्का करने का काम करते हैं। पिगमेंटेशन को दूर करने के लिए आप लाल चंदन का इस्तेमाल एक पेस्ट के तौर पर कर सकते हैं। इस पेस्ट को तैयार करने के लिए आपको चंदन के पाउडर को केवल बदाम के तेल में मिलाकर इस्तेमाल करना होगा।

यह भी पढ़िए: चाय के स्वाद में लगाएं जीरे का तड़का, जानिएं आसान रेसिपी

3. एक्जिमा से छुटकारा

एक्जिमा एक प्रकार का त्वचा रोग है जिसकी वजह से हमारी त्वचा पर जलन वह ड्राइनेस हो जाती है। हालांकि इसके लिए कई दवाईया मार्केट में मौजूद है। लेकिन आप कुछ आयुर्वेदिक व हर्बल तरीकों से भी इन परेशानियों का इलाज कर सकते हैं। इस परेशानी से निजात के लिए आप चंदन पाउडर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको चंदन पाउडर में कुछ पानी की बूंदे मिलाकर पेस्ट तैयार करना होगा। और इस पेस्ट को अपने खुजली वाली जगह पर अप्लाई करना होगा। दिन में एक बार के इस्तेमाल से भी आपको एक्जिमा की परेशानी से राहत मिल जाएगी।

4. गुणों की भरमार है चंदन

चंदन का इस्तेमाल आप और भी कई परेशानियों को दूर करने के लिए कर सकते हैं। आप शायद जानते ना हो लेकिन चंदन की मदद से त्वचा की जलन और ड्राइनेस का तो खात्मा होता ही है। साथ ही यह एंटीसेप्टिक की तरह भी काम करता है। लाल चंदन में हीलिंग एंटीसेप्टिक गुणों की भरमार होती है। यही वजह है कि प्राचीन समय में भी चंदन का इस्तेमाल एक एंटीसेप्टिक अर्थात् घाव भरने के लिए किया जाता था। आप भी इसका इस्तेमाल अपनी चोटों को हिल करने के लिए कर सकते हैं। यदि आपकी त्वचा कही से डैमेज हो गई है या छिल गई है तो आप इस पर लाल चंदन पाउडर की मदद से राहत पहुंचा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: घर पर ही इन आसान टिप्स की मदद से बनाएं नीम का आयुर्वेदिक साबुन

Source link