Haryana

दहेज में बड़ी गाड़ी नहीं दी तो बारात लेकर नहीं आया दूल्हा, दुल्हन करती रही इंतजार

दहेज में बड़ी कार न देने पर तोड़ दी शादी

दहेज में बड़ी कार न देने पर तोड़ दी शादी

लड़की वाले ऑल्टो कार (Alto Car) सहित 10 लाख तक सामान देने को तैयार हो गए, लेकिन लड़के वाले फिर भी नहीं माने.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 21, 2020, 10:40 AM IST

करनाल. हरियाणा के करनाल (Karnal) जिले की हनुमान कॉलोनी में रहने वाली एक लड़की का निकाह (Marriage) महज दहेज में बड़ी गाड़ी ना देने की वजह से टूट गया. लड़के और लड़के के परिवार वाले शादी वाले दिन आए नहीं जिसके बाद शादी की तैयारियां यूंही ही रह गई. लड़की के परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि दहेज में बड़ी गाड़ी नहीं दी इसलिए वो नहीं आए.

मामला मेरठ रोड स्थित हनुमान कॉलोनी निवासी एक मुस्लिम परिवार का है. 20 दिसंबर को इस घर में बारात आनी थी. दुल्हन के पिता ने बताया कि उसकी बेटी के निकाह की बात एक साल से चल रही थी लेकिन तीन महीने पहले ही लड़के के माता-पिता, नाना, चाचा आदि छह परिजनों ने लड़की को देखने के बाद 1100 रुपये देकर रिश्ता पक्का किया था. लड़के का फर्नीचर का शोरूम है, लेकिन उसने निकाह में देने के लिए फर्नीचर कहीं और से खरीदने की बात कही थी. फिर लड़के के चाचा के शोरूम से सारा सामान लड़के की पसंद से खरीदा. लड़के ने स्वयं आकर लड़की को पसंद किया. उससे ही निकाह करने का वादा करके गया. इसके बाद ही शादी के कार्ड छपवाए गए.

बारात लाने से मना कर दिया

निकाह व बारात के स्वागत की सारी तैयारियां की गई हैं. लेकिन कल तक लड़के वालों ने निकाह से इनकार नहीं किया. इसलिए सारी तैयारियां हंसी खुशी से चल रही थी. अब बारात नहीं लाने पर जब कन्या पक्ष के लोग गए तो बात खुली. लड़का निकाह के लिए नहीं मान रहा है की बात कहकर बारात लाने से मना कर दिया.पंचायत में भी नहीं हो पाया फैसला

गांव में दोनों पक्षों की सहभागिता में पंचायत बुलाई गई. लड़की वाले ऑल्टो कार सहित 10 लाख तक सामान देने को तैयार हो गए, लेकिन लड़के वाले फिर भी नहीं माने. इज्जत की दुहाई देते हुए कन्या पक्ष के लोगों ने सहमति का हर संभव प्रयास किया लेकिन लड़के वाले नहीं माने.



Source link

Leave a Reply