Haryana

From 5:35 pm to 7:31 pm in Taurus lagna, Lakshmi will be worshiped in the Leo lagna from 12:07 pm to midnight after 02:24. | वृष लग्न में शाम 5:35 से 7:31 तक, सिंह लग्न में रात्रि 12:07 बजे से मध्यरात्रि पश्चात 02:24 तक लक्ष्मी पूजन करना रहेगा श्रेयस्कर

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भिवानी3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

दीपावली पर्व के उपलक्ष्य में सजाया गया जोगीवाला शिव मंदिर परिसर।

  • प्रदोषकाल में स्वाति नक्षत्र रात्रि 8:10 तक रहेगा

दीपावली के दिन लक्ष्मी-गणेश पूजन में प्रदोष काल का भी खासा महत्व होता है। पंडित कृष्ण कुमार नावा ने बताया कि दिन-रात के संयोग को ही प्रदोष काल कहते है अर्थात सूर्यास्त के बाद लगभग 2:30 घंटे का समय प्रदोष काल होता है जो पूजा के लिए अति उत्तम है। उन्होंने बताया कि इस बार चतुर्थदशी तिथि 14 नवंबर को दोपहर 2:20 तक रहेगी। इसके उपरांत अमावस्या शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि इस बार प्रदोषकाल में स्वाति नक्षत्र रात्रि 8:10 तक रहेगा।

उसके उपरांत विशाखा नक्षत्र का आरंभ हो जाएगा। उन्होंने बताया कि दीपावली पर स्वाति नक्षत्र चर और चल संज्ञक होने से वाहन, उद्योग धंधे, दुकान, फोटोग्राफी व कंप्यूटर आदि कार्यों के लिए शुभ रहेगा। पं. कृष्ण कुमार शर्मा ने बताया कि दीपावली के दिन लक्ष्मी पूजन के लिए वृष तथा सिंह लग्न पूजन के समय श्रेष्ठ कहे गए हैं। इन लग्नों में पूजा करने से धन, ऐश्वर्य, बुद्धि, सुखी जीवन तथा आरोग्य मिलता है। उन्होंने बताया कि वृष लग्न स्थानीय समयनुसार शाम 5:35 से 7:31 तक रहेगा।

इसके अलावा इस बार वृष लग्न में राहु होने से इलेक्ट्रोनिक्स, इस्पात, कोयला, पेट्रोलियम, डीजल आदि कार्य करने वालों को पूजन के लिए उपर्युक्त रहेगा। वहीं, सिंह लग्न रात्रि 12:07 बजे से मध्यरात्रि पश्चात 02:24 तक रहेगा जो स्थिर लक्ष्मी केे लिए पूजा कार्यों में श्रेष्ठ कहा गया है। इसके अलावा दोहरे स्वभाव वाला मिथुन लग्न सांयकाल 7:31 से रात्रि 9:46 तक विद्यमान रहेगा, इस दौरान उद्योग, फैक्ट्री, दवा विक्रेता, स्टोन क्रेशर, कारखाने आदि में पूजन के लिए समय शुभ रहेगा।

चौघड़िया का शुभ समय

दीपावली के दिन में चौघड़िया मुहूर्त अनुसार सुबह 8:11 से 9:30 तक शुभ का चौघड़िया मुहूर्त रहेगा। वहीं दोपहर 12:10 से दोपहर 1:29 तक चल का तथा दोपहर 1:29 से 2:49 तक लाभ का चौघड़िया मुहूर्त है। इसके अलावा 2:49 से सांय 4:08 तक अमृत का चौघड़िया मुहूर्त रहेगा।

दीपावली पर बन रहा है सर्वार्थसिद्धि योग : पं. शर्मा नांवा ने बताया कि इस बार दीपावली पर सर्वार्थसिद्धि, सौभाग्य एवं स्वाति नक्षत्र का विशेष संयोग बन रहा है। उन्होंने बताया कि रात्रि 8:10 तक स्वाति नक्षत्र के बाद विशाखा नक्षत्र आरंभ हो जाएगा जो मनारेथपूर्ति की कामना हेतू शुभ कहा गया है। उन्होंने बताया कि इस दिन गुरु धनु राशि में जबकि तुला राशि में बुध, सूर्य व चंद्र रहेंगे।

इसके अलावा मकर राशि में शनि व मीन में मंगल प्रभावी रहेगा। उन्होंने बताया कि देवी लक्ष्मी की पूजा के लिए रात का समय ही श्रेष्ठ माना गया है। इस वजह से अधिकतर लोग देर रात लक्ष्मी पूजन करते हैं। इस संबंध में मान्यता है कि जो लोग दीपावली की रात जागकर लक्ष्मी पूजा करते हैं, उनके घर में देवी लक्ष्मी का आगमन होता है और घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

Source link

Leave a Reply