Haryana

अंबाला में पटाखे फोड़ने और बेचने पर रोक, विज से मिले व्यापारियों में रोष

ग्रीन पटाखों को पर्यावरण हितैषी माना जाता है. (File Pic)

ग्रीन पटाखों को पर्यावरण हितैषी माना जाता है. (File Pic)

Fire Crackers Selling banned in Amabala: नगर परिषद अंबाला के सचिव राजेश कुमार ने कहा कि अब प्रशासन के आदेश आ गए हैं, जिसमें पटाखा बेचने और जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

अंबाला. देश के कई हिस्सों में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) के आदेश के बाद पटाखों की बिक्री (Sale) और फोड़ने पर बैन लगाया है. ऐसे में हरियाणा के अंबाला (Ambala) में प्रशासन पटाखों की बिक्री और फोड़ने पर बैन लगाया है. हालांकि, पटाखे (Fire crackers) बेचने और जलाने पर रोक को लेकर व्यापारियों में रोष है.

दो घंटे की छूट दी थी

2 दिन पहले हरियाणा के सीएम ने लोगों को दिवाली वाले दिन 2 घंटे पटाखे जलाने की छूट दी थी. इसी को देखते हुए अंबाला प्रशासन ने पटाखा विक्रेताओं के ड्रा निकाले और उन्हें जगह अलाट कर दी, जहां पर पटाखे बेच सके. लेकिन अब जिला प्रशासन ने फिर से पूरी तरह पटाखे बेचने और जलाने पर रोक लगा दी है जिसको लेकर अंबाला के पटाखा व्यापारियों में जबरदस्त रोष है.
विज के पास गए थे व्यापारीविज को भी बताई समस्या

अपनी इसी समस्या को लेकर अम्बाला के सभी पटाखा विक्रेता हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज के पास अपनी समस्या लेकर गए, लेकिन वहां पर भी कोई बात नहीं बनी. पटाखा विक्रेता पुनीत जायसवाल, अर्पित मोनू कहा कि वह बहुत छोटे दुकानदार है और उन्होंने होलसेल व्यापारियों से पटाखा खरीदा है, जिसे वह दिवाली के त्यौहार पर बेच कर कुछ पैसे कमा सकते हैं, लेकिन सरकार ने अब पटाखे बेचने और जलाने पर पूरी तरह रोक लगा दी है, जिससे हम बर्बादी की कगार पर पहुंच रहे हैं, उन्होंने कहा कि हमने जो माल खरीदा है उसका क्या करें माल न बिका तो हमें बहुत नुकसान होगा. उन्होंने कहा कि सरकार को यह आदेश पहले जारी करने चाहिए थे जिस से हम पर यह मार ना पड़ती.

क्या बोले अधिकारी

नगर परिषद अंबाला के सचिव राजेश कुमार ने कहा कि कुछ दिन पहले सरकार के यह आदेश आए थे कि दिवाली के दिन 2 घंटे लोग पटाखे चला सकते हैं. इसी को देखते हुए ड्रॉ निकाल दिए थे, जिससे वह अपने निर्धारित जगह पर पटाखे बेच सकें, लेकिन अब प्रशासन के आदेश आ गए हैं, जिसमें पटाखा बेचने और जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.



Source link

Leave a Reply