कैथल: छाती में गोली लगने से ASI के 15 साल के बेटे की मौत, माता-पिता नहीं थे घर | kaithal – News in Hindi

कैथल: छाती में गोली लगने से ASI के 15 साल के बेटे की मौत, माता-पिता नहीं थे घर

एएसआई के बेटे की गोली लगने से मौत

जब गोली चली तो आशीष (Ashish) कमरे में अकेला ही था. गोली की आवाज सुनकर पड़ोसी (Neighbor) आए तो आशीष खून से लथपथ पड़ा था.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 3, 2020, 8:24 AM IST

कैथल. हरियाणा के कैथल (Kaithal) जिले में पुलिस लाइन क्वार्टर में एक 15 साल के किशोर आशीष की पिता की लाइसेंस पिस्तौल से गलती से गोली चलने से मौत (Death) हो गई. किशोर पिता एएसआई जसवंत सिंह की पिस्तौल से खेल रहा था. पिस्तौल में गोलियां थी और  वो अनलॉक थी जिसके चलते उससे गोली चल गई. घटना के वक़्त माता पिता बाहर गए हुए थे. ये मामला पुलिस लाइन के क्वार्टर नंबर 97 का है. आशीष जसवंत सिंह का इकलौता पुत्र था.

बता दें कि जींद जिला के गांव जुलहेड़ा निवासी एएसआई जसवंत की सीआईए-टू कैथल में ड्यूटी है, जिसका परिवार पुलिस लाइन में रहता है. परिवार में जसवंत की पत्नी व बेटा-बेटी थी. बुधवार को जसवंत व उसकी पत्नी भतीजी के ऑपरेशन के बाद उसे मिलने के लिए अम्बाला गए थे. घर पर आशीष व उसकी छोटी बहन अकेले थे.

10वीं कक्षा का छात्र था मृतक

दोपहर बाद जसवंत सिंह पिहोवा के पास पहुंचे तो उन्हें घर पर गोली चलने की सूचना मिली. आनन-फानन में वो कैथल पहुंचे, तब तक बेटे को शहर के निजी अस्पताल पहुंचा दिया था. बताया जा रहा है कि 15 वर्षीय आशीष डीएवी स्कूल में 10वीं कक्षा का छात्र था. डीएसपी दिलीप सिंह ने बताया कि जसवंत सिंह अम्बाला में गए हुए थे. पीछे से उसका बेटा आशीष व बेटी अंजलि घर पर थे. गोली खेल-खेल में चली है या फिर यह सुसाइड है, ये तो जांच के बाद ही सामने आएगा.पिता की प्राइवेट पिस्तौल से मारी गोली

पुलिस द्वारा धारा 174 के तहत कार्रवाई की जा रही है. जिस लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली चली वह जसवंत की प्राइवेट है.  जिस समय गोली चली आशीष कमरे में अकेला ही था. गोली की आवाज सुनकर पड़ोसी आए तो आशीष खून से लथपथ पड़ा था. जिसे शहर के एक निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.



Source link