India

Rahul Gandhi can again become Congress President Sonia Gandhi Congress Meeting latest Update

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के आवास 10 जनपथ पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक हुई. इस बैठक में एक बार फिर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को पार्टी की कमान सौंपने की मांग उठी. इस पर राहुल गांधी ने कहा, पार्टी उन्हें, जो भी जिम्मेदारी देगी उसे निभाएंगे. साथ ही, राहुल गांधी ने यह भी कहा कि अध्यक्ष को चुनने का फैसला चुनाव पर छोड़ना चाहिए.

राहुल तैयार!
सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में कांग्रेस के 20 वरिष्ठ नेता शामिल रहे. बैठक करीब 5 घंटे चली. बैठक में मौजूद सभी नेताओं ने एकमत से राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को अध्यक्ष बनाने की इच्छा जाहिर की. इन नेताओं में कई ऐसे वरिष्ठ नेता भी शामिल थे, जिन्होंने सक्रिय नेतृत्व और व्यापक संगठनात्मक बदलाव की मांग को लेकर पहले पत्र लिखा था. सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी ने कहा, ‘मैं वरिष्ठ नेताओं को महत्व देता हूं. इनमें से बहुत सारे लोगों ने मेरे पिता के साथ काम किया है.’अध्यक्ष बनने के वरिष्ठ नेताओं के आग्रह पर उन्होंने कहा,‘पार्टी जो भी जिम्मेदारी देगी, उसे निभाने के लिए तैयार हूं.’

चिंतन शिविर का होगा आयोजन
बैठक में सोनिया गांधी  (Sonia Gandhi) ने कहा कि सभी नेताओं को साथ मिलकर चलने और संगठन को मजबूत बनाने की जरूरत है. उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले समय में संगठन, विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने और अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए चिंतन शिविर का आयोजन किया जाएगा. बैठक के बाद कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता पवन कुमार बंसल ने संवाददाताओं से कहा, ‘बैठक में सकारात्मक चर्चा हुई. सोनिया गांधी ने कहा कि हम बड़ा परिवार हैं और पार्टी को मजबूत करना है. यही बात राहुल गांधी ने कही.’

यह भी पढ़ें: Mamata Banerjee के गढ़ में Amit Shah की सेंध, जानिए कौन-कौन हुआ बीजेपी में शामिल

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा, ‘आज यह पहली बैठक थी. आगे ऐसी बैठकें और होंगी. शिमला और पंचमढ़ी की तर्ज पर चिंतन शिविर भी होगा.’ उन्होंने कहा, ‘अच्छे वातावरण में चर्चा हुई. पार्टी को मजबूत करने के लिए जो भी मुद्दे उठाए गए थे, उनका संज्ञान लिया जाएगा. आगे कुछ लोग बैठेंगे और उनकी बात भी सुनी जाएगी.’

पत्र लिखने वाले नेता भी मिले
राहुल गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं एके एंटनी, अंबिका सोनी, अशोक गहलोत, पी चिदंबरम, कमलनाथ और हरीश रावत की मौजूदगी में पत्र लिखने वाले नेताओं की सोनिया से मुलाकात हुई. सोनिया के आवास 10 जनपथ पर हुई इस बैठक में गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, मनीष तिवारी, शशि थरूर और कई अन्य नेता शामिल हुए. ये नेता पत्र लिखने वाले 23 नेताओं में शामिल थे.
सूत्रों ने बताया कि सोनिया गांधी के साथ इन नेताओं की मुलाकात की भूमिका तैयार करने में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यममंत्री कमलनाथ की अहम भूमिका थी. कमलनाथ ने कुछ दिनों पहले भी सोनिया से मुलाकात की थी.

यह भी पढ़ें: जयराम रमेश ने NSA अजीत डोभाल के बेटे से बिना शर्त माफी मांगी, जानें पूरा मामला

बिहार चुनाव परिणाम के बाद उठे थे सुर
उल्लेखनीय है कि गत अगस्त महीने में गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा और कपिल सिब्बल समेत कांग्रेस के 23 नेताओं ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी का सक्रिय अध्यक्ष होने और व्यापक संगठनात्मक बदलाव करने की मांग की थी. इसे कांग्रेस के कई नेताओं ने पार्टी नेतृत्व और खासकर गांधी परिवार को चुनौती दिए जाने के तौर पर लिया. कई नेताओं ने गुलाम नबी आजाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की. 

LIVE TV



Source link

Leave a Reply