India

Media articles on employment of microwave weapons in Eastern Ladakh are baseless says Indian Army | क्या चीन की सेना ने लद्दाख में इस्तेमाल किया ‘माइक्रोवेव वेपन’? भारतीय सेना ने बताया सच

नई दिल्ली: लद्दाख बॉर्डर (Ladakh Border) पर पिछले कई महीनों से भारत और चीन के बीच तनातनी जारी है. दोनों देशों की सेनाएं अपने-अपने मोर्चे पर डटी हुई हैं. मामले को सुलझाने के लिए दोनों देशों के बीच कई दौर की कूटनीतिक और कोर कमांडर स्तर की चर्चाएं हो चुकी हैं लेकिन तनाव कम करने का कोई हल नहीं निकल सका है. 

इस बीच एक रिपोर्ट सामने आई जिसमें चीन की एक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ने दावा किया है कि चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने पूर्वी लद्दाख में भारतीय सेना की कब्जे वाली दो चोटियों को खाली कराने के लिए ‘माइक्रोवेव वेपन’ का इस्तेमाल किया था.

हालांकि भारतीय सेना ने साफ कर दिया है कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई. यह दावा पूरी तरह से निराधार है. सेना के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर इस खबर का खंडन किया गया है. 

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान में बैठे आकाओं के इशारे पर दिल्ली को दहलाने का था प्लान, जैश के दो आतंकी गिरफ्तार

ट्वीट में कहा गया है, ‘पूर्वी लद्दाख में ‘माइक्रोवेव वेपन्स’ के इस्तेमाल वाले मीडिया रिपोर्ट्स निराधार हैं. ये खबर FAKE है. 

बता दें कि चीन की एक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जिन केनरॉन्ग ने एक ऑनलाइन सेमिनार में दावा किया था कि भारतीय सेना को सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण दो चोटियों से हटाने के लिए चीन की सेना ने माइक्रोवेव हथियारों का इस्तेमाल किया. 

 



Source link

Leave a Reply