India

आखिर कब कोरोना के संकट से मिलेगी मुक्ति? AIIMS के निदेशक ने दिया जवाब

नई दिल्लीः देशभर के लोग इन दिनों कोरोना वायरस के संक्रमण से परेशान हैं और कोविड-19 वैक्सीन का इंतजार कर रहे हैं. इसी बीच एम्स (AIIMS) के निदेशक रंदीप गुलेरिया ने वैक्सीन को लेकर बड़ा बयान जारी किया है. गुलेरिया ने कहा, अप्रैल 2021 में कोविड-19 की वैक्सीन आ सकती है. इसी के साथ उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि वैक्सीन आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मुफ्त में मिलेगी. 

2021 अप्रैल तक आएगी कोविड-19 की वैक्सीन
गुलेरिया ने कहा कि अगले साल के अंत तक सभी लोगों को लग सकती है वैक्सीन और 2022 तक कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा. गुलेरिया ने कहा, वैक्सीन के आने के बाद 2022 तक इस जानलेवा महामारी का अंत हो जाएगा.  उन्होंने अमेरिका के टीके को लेकर भी जानकारी दी है.

ये भी देखें-CM योगी आदित्यनाथ ने की भगवान राम की आरती, 5 लाख 51 हजार दीपों से जगमगाई अयोध्या नगरी

भारत में काम नहीं कर पाएगी US की वैक्सीन
गुलेरिया ने बताया कि अमेरिका की फाइजर वैक्सीन का भारत में काम कर पाना मुश्किल है. इसका कारण उन्होंने तापमान को बताया. उन्होंने दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर की वजह भीड़, सर्दी और प्रदूषण को बताया है. हालांकि उन्होंने यह भी दावा किया है कि अगले साल तक भारत में कई वैक्सीन एक साथ मौजूद होंगी. इनमें कुछ स्वदेशी भी और विदेशी भी होंगी.

चुनौती भरे होंगे 4 महीने
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक ने देश के लोगों से अगले चार माह तक सावधान रहने की चेतावनी दी है. गुलेरिया ने कहा, अगले चार माह हर किसी के लिए चुनौती भरे साबित होंगे. सर्दियों के इन महीनों में हर किसी को कोविड-19 के नियमों का पालन करना होगा और संक्रमण की रोकथाम के लिए सावधानी बरतनी होगी. 

 



Source link

Leave a Reply