Provocative statement of AMU student who is released on bail, said rebuild Babri | जमानत पर रिहा AMU छात्र ने फिर दिया भड़काऊ बयान, बोला- ‘बाबरी दोबारा बनाएंगे’

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ उत्तर प्रदेश (Utter Pradesh) के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हुए प्रदर्शन के बाद भड़की हिंसा के आरोपी शरजील उस्मानी ने एक बार फिर भड़काऊ काम किया है. जमानत पर रिहा उस्मानी ने अपने ट्विटर अकाउंट के कवर पर एक ऐसी फोटो लगाई है जिसमें लिखा है ‘बाबरी दोबारा बनाएंगे’. 

शरजील ने एक ट्वीट कर कहा, ‘आप सभी की प्रार्थनाओं और समर्थन के लिए आप सभी का धन्यवाद. मैं आपके कॉल और संदेशों का जवाब न दे सकने के लिए माफी चाहता हूं. मेरा फोन और अन्य सामान अभी भी एटीएस के पास हैं. मैं डुप्लिकेट सिम कार्ड के माध्यम से इन प्लेटफार्मों तक पहुंच प्राप्त करने में सक्षम हूं.’

शरजील ने इस ट्वीट में एक लेटर भी पोस्ट किया है जिसमें एक बार फिर से मुस्लिम आबादी को सरकार और नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ भड़काने की कोशिश की गई है.

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) विरोधी आंदोलन के मामले में गिरफ्तार AMU के पूर्व छात्र नेता शरजील उस्मानी को इसी महीने जमानत पर रिहा किया गया है.

ये भी पढ़ें- बाबरी विध्वंस: इस दिन आएगा फैसला, कोर्ट ने आडवाणी समेत 32 आरोपियों को मौजूद रहने को कहा

एएमयू के एक वरिष्ठ शिक्षक के बेटे उस्मानी को पिछली 10 जुलाई को आतंकवाद रोधी दस्ते ने आजमगढ़ जिले में गिरफ्तार किया था. उस्मानी को पिछले साल दिसंबर में एएमयू में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के मामले में गिरफ्तार किया था. पुलिस ने उस्मानी पर एएमयू में हुए सीएए विरोधी आंदोलन का योजनाकार बताया था.



Source link