Rajasthan political crisis ashok gehlot and sachin pilot congress and bjp live news and updates 19 july 2020 | भंवरलाल की तलाश में फिर मानेसर पहुंची एसओजी की टीम, चुरू और जयपुर स्थित निवास पर भी कार्रवाई; संजय जैन से पूछताछ जारी

  • Hindi News
  • National
  • Rajasthan Political Crisis Ashok Gehlot And Sachin Pilot Congress And Bjp Live News And Updates 19 July 2020

जयपुर4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

विधायक भंवरलाल शर्मा की तलाश में राजस्थान पुलिस हरियाणा के मानेसर स्थित रिजॉर्ट पर पहुंची। उन्हें यहां विधायक के होने की सूचना मिली थी।

  • कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुड़ा ने कहा- संजय जैन की तरह और भी एजेंट तब थे, पर वे अपनी कोशिशों में कामयाब नहीं हो पाए
  • अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमे की नजर अब हाईकोर्ट के फैसले पर, स्पीकर के अयोग्य ठहराने के नोटिस पर सोमवार को सुनवाई
  • गहलोत अब विधानसभा सत्र बुलाने के लिए रणनीति बना रहे हैं, बीटीपी के दो विधायकों ने उन्हें समर्थन पत्र सौंपा

राजस्थान में सियासी उठापटक का रविवार को 10वां दिन था। देर रात भंवरलाल की तलाश में फिर मानेसर पहुंची एसओजी की टीम। इससे पहले भंवरलाल के चुरू और जयपुर स्थित निवास पर भी कार्रवाई की गई। वहीं, संजय जैन से पूछताछ जारी है। महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल हुई हैं। इससे पहले, कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुड़ा ने दावा किया है कि हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों में गिरफ्तार किए गए संजय जैन ने 8 महीने पहले मुलाकात की थी।

गुड़ा ने कहा कि वह मुझे भाजपा ज्वाइन करवाना चाहता था और उसने वसुंधरा राजेजी से मिलने की बात कही थी। हालांकि, उस वक्त और भी एजेंट इसी काम में लगे थे, पर वे अपनी कोशिशों में कामयाब नहीं हुए। हॉर्स ट्रेडिंग का वीडियो वायरल होने के बाद संजय जैन को एसओजी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उस पर देशद्रोह और आपराधिक साजिश रचने का आरोप है। 

भाजपा ने कहा- जुगाड़ से चल रही है गहलोत सरकार

इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि अशोक गहलोत की सरकार जुगाड़ की सरकार है। उन्होंने बहुमत खो दिया है। अगर बागी विधायक इस्तीफा दे देते हैं तो यह सरकार गिर जाएगी।

उन्होंने कहा कि फिर भी भाजपा अविश्वास प्रस्ताव पेश नहीं करेगी। फिलहाल हमारी पार्टी पूरे घटनाक्रम पर नजर रखे है। सोच समझकर कदम उठाएगी। पूनिया ने सचिन पायलट पर कहा कि हम उन्हें न्योता नहीं देंगे। हां अगर वे पार्टी में शामिल होना चाहें तो स्वागत है।

सिब्बल ने कहा- सरकार गिराने के लिए दिल्ली की ‘वुहान जैसी फैसिलिटी’ से फैल रहा भ्रष्टाचार का वायरस

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि दिल्ली में ‘वुहान जैसी सुविधा’ के जरिए भ्रष्टाचार का वायरस चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने के लिए फैला है। इसके लिए वैक्सीन की जरूरत है।

लाइव अपडेट्स

  • जयपुर में कांग्रेस नेता अजय माकन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कहा कि राजस्थान में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो लोग वोट डालने नहीं जाएंगे। लोकतंत्र बचाने की जरूरत है। जब एसओजी की टीम हरियाणा पहुंची तो उसे रोक दिया गया। विधायकों को भागने का मौका दिया गया। अगर भाजपा का रोल नहीं है तो ये विधायक भाजपा शासित राज्यों में क्यों जा रहे हैं।
  • कांग्रेस एमएलए राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने कहा कि हमारे पास 100 विधायक हैं। अगर हमारे पास बहुमत ना हो तो भाजपा को फ्लोर टेस्ट की मांग करनी चाहिए। संजय जैन छह महीने पहले मेरे पास आया था। उसने वसुंधरा राजे और दूसरे नेताओं से मिलने के लिए कहा था। उसके जैसे दूसरे एजेंट भी हैं, लेकिन वे कामयाब नहीं हुए।
  • विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि भाजपा ने कभी फ्लोर टेस्ट की मांग नहीं की है। अभी भी नहीं कर रही है। हम उनकी लड़ाई को देख रहे हैं। जब सही वक्त आएगा। हम जरूर कदम उठाएंगे। फिलहाल हमें जबरन इस मामले में घसीटा जा रहा है।
  • पायलट गुट के विधायक दिल्ली-एनसीआर में किस होटल में ठहरे हैं, इसे लेकर स्थिति साफ नहीं है। सूत्रों की मानें तो इनमें 6 विधायक मानेसर के ही किसी होटल में ठहरे हैं। बाकी विधायकों को नई रणनीति के तहत अलग-अलग होटलों में रखा जा रहा है।
  • एसओजी की टीम फिर से मानेसर पहुंची। भंवरलाल शर्मा के वहाँ होने की सूचना है। भंवरलाल शर्मा के जयपुर निवास स्थानों व चुरू निवास स्थान पर नोटिस तामील करवाने की कार्यवाही।
  • SOG के 10 जुलाई के मुकदमे 47/20 में करणी सिंह से पूछताछ हेतु नोटिस तामील की कार्यवाही हेतु SP बांसवाड़ा को पत्र जारी। संजय जैन से पूछताछ जारी। महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल । जानकारियों का सत्यापन कार्य प्रगति पर।
  • कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट किया, ‘ पुलिस की जांच चल रही है। एफआईआर भी दर्ज की जा चुकी है। फिर भी भाजपा ऑडियो टेप की जांच में रुकावट डालने के लिए सीबीआई की मांग कर रही है।”

दरअसल, विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़े फोन टैपिंग मामले पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार देर रात राजस्थान के मुख्य सचिव से रिपोर्ट मांगी है। इसमें पूछा गया कि फोन किस आधार पर टेप किए गए? इससे पहले, सुबह भाजपा ने इस मुद्दे पर सवाल उठाए थे और सीबीआई जांच की मांग की थी।

22 जुलाई को विधानसभा सत्र बुला सकते हैं
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सदन में अपनी ताकत दिखाने के लिए बुधवार को विधानसभा का सत्र बुला सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि सरकार सोमवार को बागी विधायकों की याचिका पर हाईकोर्ट के फैसले के बाद इस पर विचार करेगी। स्पीकर सीपी जोशी ने सचिन पायलट समेत 19 विधायकों को अयोग्य ठहराने का नोटिस जारी किया था। इसे हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है।

इस बीच, मुख्यमंत्री ने शनिवार शाम को राज्यपाल कलराज मिश्र से चार दिन में दूसरी बार मुलाकात की। इसे उन्होंने औपचारिक मुलाकात बताया। लेकिन सूत्र बता रहे हैं कि इस दौरान उन्होंने विधानसभा सत्र बुलाने पर चर्चा की।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार शाम को राज्यपाल कलराज मिश्र से चार दिन में दूसरी बार मुलाकात की।

बीटीपी के दो विधायक सरकार के साथ आए  
भारतीय ट्राइबल पार्टी के दो विधायक हैं। इन्होंने शनिवार को गहलोत से मिलकर अपना समर्थन पत्र सौंपा। पहले बीटीपी ने तटस्थ रहने की बात कही थी। ऐसा बताया जा रहा है कि राज्यपाल से मुलाकात के दौरान गहलोत ने यह भी जानकारी भी दी।

बीटीपी विधायक राजकुमार रोत और रामप्रसाद ने शनिवार शाम को सीएम गहलोत को समर्थन पत्र दिया।

ऑडियो टेप की जांच के लिए एसआईटी बनाई

  • राजस्थान सरकार ने विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़े ऑडियो टेप की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। एसआईटी के मुखिया सीआईडी के एसपी विकास शर्मा होंगे। एसआईटी में एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी), स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और एंटी टेररिस्ट स्क्वायड (एटीएस) के एसपी स्तर के अधिकारी होंगे। 
  • विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़े तीन ऑडियो क्लिप सामने आए हैं। पुलिस के मुताबिक इनमें संजय जैन, गजेंद्र सिंह और कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा की आवाज है। इनके खिलाफ स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने केस दर्ज किया है। 
  • एसआईटी विधानसभा अध्यक्ष को भी पत्र लिख सकती है। इसमें विधायक भंवरलाल शर्मा से पूछताछ की अनुमति मांगी जा सकती है। भंवरलाल दिल्ली में हैं।
  • संजय जैन को एसओजी ने चार दिन के लिए पूछ्ताछ के लिए रिमांड पर लिया है। उधर, इस मामले में गिरफ्तार अशोक सिंह और भरत मलानी ने वॉइस सैंपल देने से इनकार कर दिया है। इनके वकील ने कहा कि मामला राजनीति से प्रेरित है। हमें फंसाया जा रहा है।

लगातार दूसरे दिन खाली हाथ रही एसओजी की टीम
आरोपी विधायकों के वॉइस सैंपल लेने और पूछताछ के लिए पायलट खेमे की तलाश में जुटी एसओजी शनिवार को दिल्ली के होटल में पहुंची तो वहां भी पायलट सहित उनके 19 समर्थक नहीं मिले। इससे पहले शुक्रवार को एसओजी की टीम हरियाणा के मानेसर स्थित होटल में पहुंची थी। तब हरियाणा पुलिस ने रोक दिया था। करीब एक घंटे बाद एंट्री मिली तब तक पायलट खेमा नदारद हो गया था। हालांकि, एसओजी ने कहा कि विधायकों को हम जल्द ही ढूंढ लेंगे।

राजस्थान के सियासी घटनाक्रम पर आप ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1. 9 दिन बाद वसुंधरा ने चुप्पी तोड़ी: 3 घंटे में 2 ट्वीट किए, लिखा- मैं अपनी पार्टी के साथ खड़ी हूं; गृह मंत्रालय ने फोन टैपिंग पर रिपोर्ट मांगी

2. राजस्थान में सत्ता के समीकरण:पायलट खेमे के 30 एमएलए विधायकी छोड़ते हैं तो भी सरकार बनाने के लिए भाजपा को 11 नए सहयोगी तलाशने होंगे

3. राजस्थान में सियासी पैरवी पर तगड़ा खर्च/दोनों पक्षों के 3 वकीलों की फीस 1.50 करोड़ से ज्यादा; साल्वे, रोहतगी और सिंघवी हर दिन की पैरवी के 50-50 लाख रु. लेते हैं

0



Source link