English Premier League Football giants Arsenal and Chelsea send message for Assam flood victims| इंग्लैंड की इन 2 फुटबॉल टीम्स ने असम के बाढ़ पीड़ितों को लेकर जताई चिंता, जानिए डिटेल

नई दिल्ली: इंग्लिश प्रीमियर लीग की दो फुटबॉल टीम्स ने असम के बाढ़ पीड़ितों को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है. सबसे पहले आर्सेनल क्लब ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि, ‘हम आपके साथ हैं, हिम्मत रखे असम’. इस वीडियो में असमिया भाषा का भी इस्तेमाल किया गया है. आर्सेनल इंग्लिश प्रीमियर लीग के टॉप टीम्स शुमार की जाती है. अब तक इस क्लब ने 13 बार लीग टाइटल अपने नाम किया है.

आर्सेनल के बाद चेल्सी फुटबॉल क्लब ने आसाम के बाढ़ पीड़ितों के प्रति चिंता जताई है. अंग्रेजी और असमिया दोनों भाषाओं में पोस्ट करते हुए लिखा है, ‘हम असम के हर बाढ़ पीड़ितो के बारे में फिक्रमंद हैं’ अब तक चेल्सी टीम 6 बार लीग की चैंपियन बनी है.

असम में आई बाढ़ को लेकर इन दोनों फुटबॉल क्लब का ऐसे वक्त में आया है जब सोशल मीडिया पर #NorthEastMatters नाम का अभियान चल रहा है. इस अभियान का समर्थन कर रहे लोगों का आरोप है कि मेन स्ट्रीम मीडिया के द्वारा असम के हालात को दरकिनार किया जा रहा है, और इस राज्य के हालात को ज्यादा कवरेज देने की जरूरत है. असम समेत सभी पूर्वोत्तर राज्यों में फुटबॉल की लोकप्रियता काफी ज्यादा है. इसी को देखते हुए आर्सेनल (Arsenal) और चेल्सी (Chelsea) ने इस मुश्किल घड़ी में अपने फैंस को याद किया है.

भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘दुआओं के साथ-साथ, असम पर ज्यादा ध्यान देने और हर मुमकिन मदद पहुंचाने की जरुरत है ताकि बाढ़ से पैदा हुई मुश्किलों से निजात मिल सके. वहां इंसानों और जानवरों की जिंदगियों का काफी नुकसान हुआ है, मैं यही उम्मीद कर रहा हूं कि हताहत की संख्या न बढ़े.#AssamFloods.’

पूर्वोत्तर का राज्य असम बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित है. असम में बाढ़ के कारण अब तक 107 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं कई लोग बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे हुए हैं जिन्हें रेस्क्यू करके सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है. इस बाढ़ से इंसानी जन-जीवन ही नहीं बल्कि जीव-जंतु भी प्रभावित हैं. असम स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (ASDMA) की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रह्मपुत्र नदी कई जगहों पर खतरे के निशान के ऊपर बह रही है. असम के 26 जिले बाढ़ की चपेट में हैं और 27 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं. 



Source link