business

20 जनवरी को आईपीओ लॉन्च करने के लिए इंडिगो पेंट्स, 1,480-1,490 रुपये में फिक्स बैंड | इंडिगो पेंट्स आईपीओ: साल का दूसरा आईपीओ 20 जनवरी को ओपनगा, क्वालिटी बैंड 1480-1490 रुपए तय

डिजिटल डेस्क, मुंबई। वर्ष 2020 में आईपीओ ने निवेशकों को अच्छी कमाई की है। इस तरह की उम्मीद यही की जा रही है कि 2021 में भी आईपीओर्स को मालामाल करेंगे। वर्ष 2021 की शुरुआत में आईआरएफसी के बाद अब देश की पांचवीं सबसे बड़ी डेकोरेटिव पेंट कंपनी इंडिगो पेंट्स का आईपीओ 20 जनवरी को ओपन हो रहा है। इसे अपलाई करने की अंतिम तारीख 22 जनवरी है। इंडिगो पेंट्स ने अपने आईपीओ के लिए डिजिटल बैंड 1480-1490 रुपए तय किया है।

इंडिगो पेंट्स के आईपीओ में एक शेयर 10 शेयरों का होगा। यानी निवेशकों को कम से कम 10 शेयरों के लिए या 14900 रुपये निवेश करना होगा। आईपीओ के जरिए इंडिगो पेंट्स की 300 करोड़ रुपये की योजना की योजना है। कंपनी इस फंड का इस्तेमाल TN के पुड्डुकोटाई की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट के विस्तार में करेगी। इसके अलावा 150 करोड़ रुपए की लागत से एक अलग प्लांट लगाया जाएगा। फंड का एक डायस इस्तेमाल किया रीपेमेंट में भी किया जाएगा।

कंपनी के प्रमोटर्स और इनवेस्टर्स 58.40 लाख शेयरों की बिक्री करेंगे। आईपीओ के यदि आवश्यक सिकोइया कैपिटल इंडिगो पेंट्स में अपनी भागीदारी कम करेगी। इसके अलावा कुछ प्रमोटर्स भी हिस्सा बेचने का प्लान बना रहे हैं। कंपनी के प्रमोटर्स में हेमंत जालान, अनिता जालान, पराग जालान, कमला प्रसाद जालान, तारा देवी जालान और हैलोजेन केमिकलस प्राइवेट लिमिटेड शामिल हैं। कंपनी के आईपीओ के लिए लीड मैनेजर कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी, इडलवाइज फाइनेंशियल सर्विसेज और आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज हैं।

इंडिगो पेंट्स देश की पांचवीं सबसे बड़ी डेकोरेटिव पेंट कंपनी है। कंपनी अपने खुद के इंडिगो ब्रैंडेम से ही बेचती है। कंपनी का डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क 27 राज्यों में फैला है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी इसके ब्रांड अंबेसडर हैं। कंपनी के फाइनेंशियल की बात करें तो 30 सितंबर को ख्रेडम हुई तिमाही में कंपनी का टोटल एसेट 412 करोड़ का लगभग बकाया है। वहीं रेवेन्यू 260 करोड़ और मुनाफा 27 करोड़ से जियालदा था।



Source link

Leave a Reply