business

कोविशिल्ड वैक्सीन का पहला विकल्प पुणे से हुआ, 16 जनवरी से शुरू होगा वैक्सीनेशन

कोरोना (कोरोनावायरस) से जंग में एक राहत देने वाली खबर सामने आई है। 16 जनवरी से प्रस्तावित वैक्सीनेशन के लिए कोविशील्ड वैक्सीन का पहला नाम पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) से रवाना हो गया है। कोविशील्ड (कोविशिल्ड) वैक्सीन ले जाने वाले तीन ट्रक सीरम इंस्टीट्यूट से मंगलवार सुबह तड़के पुणे के आंतरिक हवाई अड्डे पर पहुंचे। यहां से वैक्सीन देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजी जाएगी। बता दें कि केंद्र सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि वैक्सीनेशन निर्धारित समय पर ही शुरू किया जाएगा।

सरकार ने दिया आदेश

पुणे हवाईअड्डे से कुल 8 विमानों में इन वैक्सीन (कोरोना वैक्सीन) को अलग-अलग स्थानों के लिए छोड़ दिया जाएगा। जिसमें दो कार्गो फ्लाइट और बाकी सामान्य लोर्शियल फ्लाइट होंगे। पुणे की ईसीपी नमृता पाटील ने बताया कि सुरक्षा के व्यापक इंतजामों के बीच वैक्सीन (कोरोना वैक्सीन) की पहली खेप सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से भेज दी गई है। गौरतलब है कि सरकार ने SII और भारत बायोटेक से कोविड -19 टीके की छह करोड़ से अधिक खुराक खरीदने का भुगतान किया है। इस सेवा की कुल कीमत लगभग 1300 करोड़ रुपये होगी।

13 शहरों में होगी तारीख

जिनिंग से वैक्सीन पुणे पासपोर्ट पहुंचाई गई, उसमें तापमान तीन डिग्री रखा गया था। यहां से वैक्सीन के 478 बॉक्स देश के 13 शहरों में पहुंच गए। हर बॉक्स का वजन लगभग 32 किलो है। वैक्सीन से भरे कपड़े को बाएं करने से पहले सीरम इंस्टीट्यूट में पूजा की गई। पहले चरण में दिल्ली, अहमदाबाद, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरु, करनाल, हैदराबाद, विजयवाड़ा, गुवाहाटी, लखनऊ, चंडीगढ़ और भुवनेश्वर में हवाई मार्ग से वैक्सीन पहुंचाई जा रही है। जबकि मुंबई में सीधे ट्रक के जरिए वैक्सीन भेजी होगी।

Source link

Leave a Reply