business

एफआईआई इनफ्लो, अमेरिका के उन शीर्ष कारकों के बीच बातचीत है जो इस सप्ताह डी-स्ट्रीट का मार्गदर्शन कर सकते हैं शेयर बाजार: जानिए वह शीर्ष फैक्टर्स जिन पर निर्भर करेगा इस सप्ताह शेयर बाजार की चाल?

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कोरोना वैक्सीन आने की उम्मीदों से देश का शेयर बाजार रोज तेजी से का नया रिकॉर्ड बना रहा है। प्रमुख संवेदी सूचकांकों सेंसेक्स और निफ्टी में साप्ताहिक आधार पर बीते सात सप्ताह से मजबूत आधार रहा है। आगामी सप्ताह के दौरान भी घरेलू शेयर बाजार की चाल कोरोना वैक्सीन की प्रगति और अमेरिका में पेटेंट पैकेज से तय होगी। जानकारों की मानें तो इसकी मुख्य वजह यह है कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक भारतीय शेयर बाजार को लेकर आशावान हैं और एफआई इन्फ्लो में लगातार गिरावट आई है। यही कारण है कि नवंबर से लेकर अब तक सेंसेक्स में 7,000 अंक से ज्यादा का उछाल आ चुका है।

बिलास स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते शुक्रवार को साप्ताहिक स्तर पर 861.68 अंक यानी 1.87 फीसदी की बढ़त के साथ 46,960.69 पर बंद हुआ, जबकि कारोबार के दौरान सेंसेक्स 472626.02 की ऐतिहासिक ऊंचाई तक चढ़ गया है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी बीते सत्र में साप्ताहिक स्तर पर 279.86 अंक यानी 1.83 फीसदी की तेजी के साथ 13,760.55 पर बंद हुआ, जबकि कारोबार के दौरान 13,772.85 की ऐतिहासिक ऊंचाई तक उछला।

इस सप्ताह 25 दिसंबर को क्रिसमस का अवकाश होने के कारण शेयर बाजार में शुक्रवार को कारोबार बंद रहेगा। इससे पहले चार सत्रों के दौरान शोधकर्ताओं की निगाहें कोरोना वैक्सीन को लेकर आने वाली रिपोर्ट और अमेरिका में कोरोना महामारी के कारण मिल रही आर्थिक चुनौतियों से निपटने के लिए प्रोत्साहन पैकेज से संबंधित खबरों पर टिकी रहेंगी। इसके अलावा, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले देसी करेंसी रुपये की चाल पर भी बाजार की नजर रहेगी।

वहीं, सप्ताह के आरंभ में चीन में सोमवार को एक साल के लिए लोन प्राइम रेट की घोषणा होने से चीनी बाजार के रुक्कों का असर भी घरेलू शेयर बाजार में ऑनलाइन हुआ। इस सप्ताह के अंतिम सत्र में गुरुवार को अमेरिका में बीते महीने नवंबर के दौरान टिकाऊ वस्तुओं के नंबर के आंकड़े जारी होंगे।



Source link

Leave a Reply