business

धान की सरकारी खरीद पिछले साल से 20 प्रतिशत बढ़ी | पिछले साल से 20 फीसदी ज्यादा धान की सरकारी खरीद हुई

नई दिल्ली, 16 नवंबर (आईएएनएस)। देशभर में धान की सरकारी खरीद चालू करेंफ विपणन सीजन में पिछले साल के मुकाबले ज्यादा तेजी से हो रही है। सरकारी एजेंसियों ने पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश सहित देशभर में 15 नवंबर तक 281.28 लाख टन धान की खरीद कर ली थी, जोकि पिछले साल के मुकाबले 20.25 फीसदी ज्यादा है। यह जानकारी केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने सोमवार को दी।

हालांकि अब तक कुल खरीद में करीब 70 फीसदी योगदान पंजाब का है, जबकि हरियाणा का योगदान 19 फीसदी है। इस प्रकार, देश के बाकी राज्यों से जो धान की खरीद हुई है वह कुल खरीद का सिर्फ 11 प्रतिशत हिस्सा है। इससे स्पष्ट होता है कि पंजाब और हरियाणा के अलावा अन्य राज्यों में धान की सरकारी खरीद की रफ्तार अभी तक काफी कम है।

मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, 15 नवंबर तक पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, उत्तराखंड, तमिलनाडु, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर, केरल, गुजरात और आंध्रप्रदेश में धान की कुल खरीद 281.28 लाख टन हुई, जोकि पिछले साल की इसी अवधि की खरीद 233.89 लाख टन से 20.25 प्रति अधिक है। इसमें से 196.13 लाख टन धान सिर्फ पंजाब के किसानों से खरीदा गया है, जोकि कुल खरीद का 69.73 प्रतिशत है।

सरकारी एजेंसी किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एसएमपी) धान खरीदती है।

सरकार ने चालू खरीफ सीजन के लिए धान का एमएलपी 1,868 रुपये (कॉमन ग्रेड) प्रतिक्विंटल तय किया है, जबकि ग्रेड-ए धान का एमएसपी 1,888 रुपये प्रतिक्विंटल तय किया है। मंत्रालय ने बताया कि अब तक 24.14 लाख किसानों से एमएसपी पर खरीदे गए धान का मूल्य 53,105.70 करोड़ रुपये है।

वहीं, मूंग, उड़द, मूंगफली की सरकारी खरीद 15 नवंबर तक 58,623.22 टन हुई है।

इसके अलावा, भारतीय कपास निगम द्वारा किसानों से एमएसपी पर लगभग 14.66 लाख गांठ (एकनाथ में 170 किलो) कपास की खरीद की गई है।

पीएमजे / एएनएम



Source link

Leave a Reply