business

पीएम ने विंडस के सीईओ से चर्चा की प्रधानमंत्री ने वेस्टस के सीईओ से की पवन ऊर्जा क्षेत्र पर चर्चा की

नई दिल्ली, 7 अक्टूबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवन ऊर्जा के क्षेत्र से जुड़े मुद्दों पर वेस्टस के सीईओ और प्रेसिडेंट हेनरिक एंडरसन के साथ बहस की। इस दौरान मोदी ने अक्षय ऊर्जा के उपयोग में भारत के प्रयासों पर भी प्रकाश डाला।

पीएम मोदी ने मंगलवार को ट्वीट किया, टाटास के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हेनरिक एंडरसन के साथ बातचीत हुई। हमने पवन ऊर्जा क्षेत्र से संबंधित मुद्दों की एक श्रृंखला पर चर्चा की। आने वाले पीढ़ियों के लिए एक स्वच्छ भविष्य का निर्माण के लिए अक्षय ऊर्जा के उपयोग पर भारत के कुछ प्रयासों पर प्रकाश डाला गया।

वहीं एंडरसन ने एक ट्वीट में कहा, अभिनव विचारों पर विश्वसनीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शानदार बातचीत हुई, जो ऊर्जा के हस्तांतरण को आगे बढ़ाने वाली है। हम भारत के साथ निरंतर सहयोग के लिए बहुत उत्सुक हैं।

इस संवाद को लेकर कंपनी ने ट्वीट किया, हम प्रधानमंत्री जी के साथ विचारों और महत्वाकांक्षाओं का संवाद-प्रदान करने के मौके के लिए आभारी हैं। आपके साथ सहयोग की दिशा में हम वी 155 टरबाइन की लॉन्चिंग कर पहले कदम बढ़ा रहे हैं।

वेस्टस ने भारतीय बाजार के लिए लो-विंड-वेरिएंट पेश किया है और देश में इसके उत्पादन को विस्तार भी दिया है।

वैश्विक स्तर पर लो और अल्ट्रा-लो विंड क्षेत्रों में स्थायी ऊर्जा समाधानों की मांग बढ़ती जा रही है। ऐसा भारत में भी है, क्योंकि यह दुनिया का चौथा सबसे बड़ा पवन ऊर्जा बाजार है। 2030 तक सरकार लो-विंड मार्केट में लगभग 100 गीगावॉट पवन ऊर्जा को जोड़ने की मंशा रखता है।

कंपनी द्वारा लॉन्च किया गया नया वी 155 टरबाइन मुख्य रूप से भारत में निर्मित होगा। इसके लिए टेसास चेन्नई में एक नए कन्वर्टर फैक्ट्री की स्थापना करेगा और अहमदाबाद के अपने मौजूदा ब्लेड कारखाने का विस्तार करेगा।

एसडीजे / एसजीके



Source link

Leave a Reply