जाप सरकार में आई तो हर गरीब परिवार को 1BHK फ्लैट देंगे- पप्पू यादव

पटना। बिहार में साल के अंत से पहले ही विधानसभा चुनाव होने हैं। सूबे की सियासत में मुख्य लड़ाई इस बार भी नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सत्ताओं एनडीए और तेजश्वी यादव के नेतृत्व वाली महागठबंधन के इर्द-गिर्द ही घुमती नजर आती है। लेकिन इस बीच राज्य में तीसरे मोर्चे को लेकर भी सुगबुगाहट तेज है। जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो पप्पू यादव इसको लेकर सबसे अधिक सक्रिय नजर आ रहे हैं। मौजूदा कोरोना काल में भी उनके अवतार, मुलाकातों और नुक्कड़ सभाओं का सिलसिला जारी है।

रविवार को जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कुम्हरार में जाप कार्यकर्ता संवाद की। यहां पप्पू यादव ने सत्ता में आने पर अपने रोडवेज का जिक्र करते हुए कहा कि अगर जन अधिकार पार्टी सरकार में आती है तो हर गरीब परिवार को एक बीएचके का फ्लैट मिलेगा। गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों के किसी भी बच्चे को मजदूरी करने की जरूरत नहीं है। सभी को अच्छे स्कूल में शिक्षा मिलेगी और उनके लिए हॉस्टल की भी व्यवस्था की जाएगी।

पार्टी कार्यकर्ताओं के बैठक में पप्पू यादव ने तीनो ही मुख्य दलों पर दलितों के अनदेखी का आरोप लगाया। पप्पू यादव ने कहा कि राज्य में दलितों के पास न घर है और न ही रोजगार। सभी दलों ने दलितों को सिर्फ वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल किया है। जो नेता अपने-आप को दलितों का प्रतिनिधित्व कहते हैं, वे चुनाव से पहले पाला बदल लेते हैं। अगर एनडीए और महागठबंधन दलितों का भला चाहता है तो किसी दलित को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए।

गुजरें दिनों एनडीए में शामिल हुए जीतन राम मांझी का जिक्र करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में कहा कि मांझी जी ने अपने अपमान को भूला दिया है। उन्हें शायद याद नहीं है कि कैसे नीतीश कुमार ने उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया था और अब उन्होंने फिर से: नीतीश कुमार के साथ हाथ मिला लिया।

इस दौरान जाप सुप्रीमो ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर अतिपिछड़ों और दलितों को किनारे करने का आरोप लगाते हुए जमकर हल्ला बोला। पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में अतिपिछड़ों और दलितों की राजनीति को नीतीश कुमार ने बर्बाद किया है। इसी कारण आज इन वर्गों के बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं। आज़ादी के 73 वर्षों के बाद भी इन समुदायों के लोग गरीबी के कुचक्र से बाहर नहीं निकल पाएं हैं।

पप्पू यादव ने किसी भी रूप में अपने पार्टी के सत्ता में हिस्से होने पर कहा कि अगर जाप सत्ता में आई तो पटना को दुनिया का सबसे स्वच्छ और खूबसूरत शहर बनाएंगे। बेटियों की आज़ादी हमारी पहली प्राथमिकता होगी। इसके लिए कानून व्यवस्था को मजबूत करना होगा। 30 साल बनाम 3 साल का नारा देते हुए उन्होंने कहा कि तीन साल के भीतर बिहार को एशिया का नंबर वन राज्य बनाएंगे। पप्पू यादव ने कहा कि अगर वे ऐसा नहीं कर पाते हैं तो उन्होंने अपने राजनीतिकता से सन्यास लेने का भी दावा किया।

Source link