सुशांत के गले पर निशान देख AIIMS की टीम का शक गहराया, पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर्स से पूछे गए सवाल

AIIMS डॉक्टर ऑन सुशांत मर्डर: सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करने में तीन एजेंसी लगी है, तो वहीं सुशांत के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से एम्स के तीन डॉक्टरों ने हस्तक्षेप की है। एम्स के डॉक्टर्स को शक है कहीं सुशांत की हत्या तो नहीं हुई। सुशांत का पोस्टमार्टम करने वाले डॉ। से एम्स के डॉक्टर (एम्स डॉक्टर ऑन सुशांत मर्डर) ने कई सवाल पूछे हैं। वास्तव में पूरा मामला ये है कि सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सीबीआई ने एम्स के फॉरेंसिक विभाग से मेडिकल राय की मांग की थी।

सुशांत के गले पर मौजूद जख्म के निशान को लेकर एम्स के डॉक्टर्स ने कई सवाल खड़े किए हैं। सुशांत के गले के बीच में चोट का निशान है जिसे देखने पर एकदम सीधी रेही दिख रही है। अगर कोई आत्महत्या करता है तो गर्दन के एकदम ऊपर ये निशान होता है और महज तन की तरह दिखाई देता है। एम्स की टीम ने जो सवाल पूछे हैं, वे ये हैं।

सुशांत की गर्दन पर जो जख्म का निशान है, उस पर आपकी क्या राय है?

लिगतुरा अजनबीपन की आशंका को आपने कैसे नजरअंदाज कर दिया, इसका मतलब ये है कि आपने ये कैसे सोच लिया कि गला नहीं स्कंध गया सुशांत का।

कुर्ते से सुशांत के गले पर जख्म का निशान कैसे पैदा हो सकता है, लिगचर सामग्री जिसे कथित तौर पर कहा जा रहा है।

एक सवाल ये है कि दुनिया में सुशांत की खुदकुशी को लेकर होम्यसाइडल लिगचर स्ट्रैगुलेशन को लेकर कई तरह की शंका बनी हुई है, कैसे इसका निवारण किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: –सुशांत के स्टाफ दीपेश ने कहा- घर के लिए प्रधान के इशारे पर आता था ड्रग्स

इतना ही नहीं बल्कि पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों के साथ-साथ एम्स की टीम मॉर्चरी के स्टाफ से भी पूछताछ करेंगे। इन सभी जांच को खत्म कर लेने के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण जो दिया गया है वह सही है और गलत है फॉरेंसिक टीम बताएगी। एम्स की टीम ये भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि सुशांत ने आत्महत्या की थी या फिर उनका गला किसी चौथाई से दबाया गया था।

यह भी पढ़ें: –प्रधान के अलावा ड्रग्स कनेक्शन में किन-किन लोगों का नाम शामिल है, जानें पूरी डिटेल

Source link