फाइनल T20I मैच में मोहम्मद हफीज को पछाड़ इंग्लैंड ने पाकिस्तान T20I सीरीज़ को बराबर कर दिया

इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान T20I श्रृंखला: पाकिस्तान की टीम कोरोनावायरस महामारी के बीच इंग्लैंड के दौरे पर तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला और इतने ही मैचों की टी 20 श्रृंखला खेलने आई थी। पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज के दो मैच बारिश में धुल गए थे, जबकि एक मैच इंग्लैंड ने जीतकर सीरीज अपने नाम की थी। वहीं, तीन मैचों की टी 20 सीरीज का समापन मंगलवार की रात को हो गया है। इसी के साथ पाकिस्तान का इंग्लैंड दौरा भी समाप्त हो गया, लेकिन पाकिस्तान ने दौरे के आखिरी मैच में जीत दर्ज कर विजयी विदाई हासिल की।

इंग्लैंड को फाइनल टी 20 मैच में हराकर पाकिस्तान ने न सिर्फ सीरीज को टाटाकर किया, बल्कि अपने इंग्लैंड के दौरे का अंत भी आतिशी अंजज में किया। मैनचेस्टर के ओल्ड टैफर्ड में तीन मैचों की टी 20 सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला गया, जिसमें इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। उधर, पाकिस्तान की टीम इस मैच में तीन बदलावों के साथ उतरी। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम का ये फैसला उस समय सही साबित हो गया, जब 19 वर्षीय डेब्यूडेंट हैदर अली ने मंदानी फिफ्टी ठोक टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया।

पाकिस्तान की टीम इस मैच में खराब शुरुआत मिली। 2 रन पर फखर जमां आउट हो गए। इसी तरह कप्तान बाबर आजम और टीम प्रबंधन ने एक बड़ा फैसला लिया और 19 साल के हैदर अली को नंबर 3 पर भेज दिया। यहां तक ​​कि आलराउंडर मोहम्मद हफीज जबरदस्त फॉर्म में थे। हैदर अली ने भी कप्तान बाबर आजम और टीम प्रबंधन को कंप्ट नहीं किया। हैदर अली 33 गेंदों में 5 चौके और 2 छक्के लगाकर 54 रन पर आउट हुए। हैदर अली ने बाबर आजम के साथ 30 रन की साझेदारी की, लेकिन बाबर 21 रन बनाकर आउट हो गए।

इसके बाद हैदर अली ने टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी मोहम्मद हफीज के साथ बल्लेबाजी का लुत्फ उठाया। हैदर अली और हफीज ने दोनों तरफ से रन बनाकर इंग्लैंड को परेशान कर दिया। मोहम्मद हफीज ने 52 गेंदों में 4 चौके और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 86 रन बनाए। इसी के साथ पाकिस्तान ने इंग्लैंड के खिलाफ 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 190 रन बनाए। अब बारी थी पाकिस्तान के गेंदबाजों की जो पिछले की तुलना में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया। टीम को इस बार अनुभवी गेंदबाज वहाब रियाज का साथ भी मिला, जिन्होंने 2 विकेट चटकाए।

191 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम को शाहीन अफरीदी ने पहला झटका जॉनी बेयरेस्टो को क्लीन बोल्ड करके दिया। इसके बाद इमाद वसीम ने डेविड मलान को आउट कर दिया। टीम संभलती इससे पहले कप्तान इयोन मोर्गन रन आउट हो गए। लगातार विकेट गिरते चले गए और इंग्लैंड की टीम 20 ओवर स्पोर्टकर 8 विकेट खोकर 185 रन बना सकी। इस तरह मेजबान टीम ये मैच 5 रन से हार गई और पाकिस्तान ने सीरीज 1-1 से बराबर कर दी। इंग्लैंड की तरफ से मोइन अली ने 33 गेंदों में 61 रन की तूफानी पारी खेली, लेकिन वे टीम को जीत नहीं दिला पाए।

Source link