सेहत

pillow side effects for health | Pillow Side Effects: गलती से भी तकिया लेकर न सोएं, बढ़ सकती हैं ये परेशानियां

नई दिल्ली. दिनभर काम करने के बाद बिस्तर पर जाकर ही आराम मिलता है. हर कोई रात में अच्छी नींद लेना चाहता है ताकि अगले दिन फ्रेश मूड (Fresh Mood) के साथ काम पर जाया जा सके. कुछ लोगों को सोते समय तकिया (Pillow) जरूर चाहिए होता है. तकिये के बिना उनको नींद (Sleep) ही नहीं आती है. कुछ लोग सोने के समय सिर के नीचे मोटा तकिया रखते हैं तो वहीं कुछ लोग तो 3-4 तकियों को पास में रखकर सोते हैं.

तकिये से होने वाले नुकसान

कहा जाए तो हर किसी की सोने की अपनी-अपनी आदतें (Sleeping Habits) होती हैं. तकिये (Pillow) के इस्तेमाल से आपको कई तरह की बीमारियों का शिकार होना पड़ सकता है. आज जानिए तकिये से होने वाले नुकसानों (Pillow Side Effects) के बारे में.

यह भी पढ़ें- Mediterranean Diet से जवान रहता है दिमाग, भरपूर फायदे के लिए इसके साथ न खाएं ये चीजें

रीढ़ की हड्डी को पहुंचता है नुकसान

अगर आप तकिया (Pillow) लेकर सोते हैं तो सावधान हो जाइए. तकिये का इस्तेमाल आपकी रीढ़ की हड्डी (Spinal Cord) को नुकसान पहंचा सकता है. तकिये से आपकी रीढ़ की हड्डी धीरे-धीरे टेढ़ी होने लगती है. इसलिए तकिया का इस्तेमाल न करें. इसका इस्तेमाल न करने से कमर दर्द (Back Pain) में भी राहत मिलेगी.

गर्दन में आता है खिंचाव 

अगर आप तकिया (Pillow) सिर के नीचे रखकर सोते हैं तो ऐसा करने से आपकी गर्दन में खिंचाव (Neck Strain) आ सकता है. इसके अलावा गर्दन में दर्द (Neck Pain) की समस्या भी बढ़ जाती है. इसलिए सोते समय तकिये का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. तकिये न लेकर सोने से शरीर में रक्त संचार (Blood Circulation) भी सही तरीके से काम करता है.

यह भी पढ़ें- Hot Water Side Effects: क्या आप भी सर्दियों में गर्म पानी पीते हैं? जान लीजिए उसके नुकसान

चेहरे पर पड़ जाती हैं झुर्रियां

तकिया लेकर सोने से आप जल्दी बूढ़े दिखने लगते हैं. रात को तकिया लेकर सोते समय कई बार आपका गाल तकिये पर होता है, जिसकी वजह से धीरे-धीरे चेहरे पर झुर्रियां (Wrinkles) पड़ने लगती हैं. इसलिए तकिये (Pillow) का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. तकिये के इस्तेमाल से धीरे-धीरे खूबसूरती खत्म होती जाती है.

बच्चों की मुड़ सकती है सांस की नली

कुछ लोग बच्चों के तकिया लगा देते हैं, जबकि ऐसा भूल कर भी नहीं करना चाहिए. तकिया (Pillow) लगाने से सांस की नली दबने और मुड़ने का खतरा बना रहता है. इसलिए बच्चों के तो कभी भी तकिया न लगाएं.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



Source link

Leave a Reply