change your drinking water style it will keep you healthy

नई दिल्ली: सभी जानते हैं कि पानी हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी होता है. शरीर को सही तरीके से हाइड्रेट (Hydrate) रखने के लिए पानी पीना (Drinking Water) सबसे महत्वपूर्ण होता है. पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीने से मोटापा (Fat) की समस्‍या नहीं होती है और न ही पेट से संबंधी कोई रोग होते हैं. लोग पानी कभी भी कैसे भी पी लेते हैं. जिससे कई तरह की परेशानी होती है. लेकिन ये जानकर आपको हैरानी होगी कि पानी पीने का भी सही समय और तरीका होता है. पानी को कैसे पिएं जिससे शरीर हाइड्रेटेड रहे और जरूरी फायदा पहुंचाए. तो आइए जानते हैं…

कैसे पानी पीना चाहिए? 
आयुर्वेद के अनुसार, पानी कभी भी हमें गट-गट करके या एक ही सांस में नहीं पीना चाहिए क्योंकि पानी पीने के दौरान हमारा लार पानी के साथ मिलकर हमारे शरीर के अंदर जाती है. लार ही हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करने का कार्य करती है. लार में कई ऐसे हेल्‍दी बैक्‍टीरिया होते हैं तो पेट के लिए फायदेमंद होते हैं. इसीलिए पानी हमेशा धीरे-धीरे या घूंट-घूंट कर के पीना सही माना गया है.

खड़े होकर पानी पीना नुकसानदेह
आयुर्वेद व शोधर्तोओं के अनुसार पानी कभी भी खड़े होकर नहीं पीना चाहिए. अगर आप खड़े होकर पानी पीते हैं, तो पानी सीधे व तेजी से पेट के निचले हिस्से में चला जाता है. जिससे शरीर को पानी के पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं. इस तरह पानी पीने से घुटनों में दर्द की समस्‍या हो सकती है. पाचन संबंधी समस्‍याएं हो सकती हैं. हाइड्रेटेड रहने में बाधा उत्‍पन्‍न हो सकती है.

पानी पीने के सही तरीके
-हो सके तो सीधे बोतल से पानी पीने से बचें और गिलास में ही पानी डालकर पिएं.
-जब बीमार पड़ें तो खूब पानी पिएं.

पानी पीने का सही समय
– सुबह उठने के बाद दो गिलास पानी पीना चाहिए.
– भोजन करने से करीब आधा घंटा पहले पानी पीना चाहिए, इससे खाना आसानी से पचता है. भोजन करने के आधे घंटे तक पानी के सेवन से बचें.
-सोने से पहले पानी पिएं. ऐसा करने से हार्ट अटैक का खतरा कम होता है.
– कसरत करने से पहले और बाद में एक गिलास पानी पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होती. साथ ही कसरत के बाद जो पसीना आता है पानी उसकी कमी पूरी करता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें)



Source link