health benefit of eating sattu

नई दिल्ली: सत्तू का नाम तो हर किसी ने सुना होगा. लेकिन इसके उपयोग से कई लोग नाक-मुंह सिकोड़ते है. पर सत्तू सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना गया है. सत्तू का इतेमाल सबसे ज्यादा गर्मियों में होता है इसे शरीर को ठण्डक मिलती है और पेट की कई बीमारिया मिट जाती है. अगर आपको भी कोई कब्ज या गैस की समस्या है तो आज से ही इसका इतेमाल कर सकते हैं. सत्तू का सेवन करने से न सिर्फ मधुमेह जैसे रोग ठीक हो जाते हैं बल्कि व्यक्ति को मोटापे से भी निजात मिलती है. तो आईये जानते है और भी फायदे (Benefits Of Sattu).

मोटापे का दुश्मन सत्तू 
आपको सुनकर हैरानी हो सकती है कि एक सम्पूर्ण आहार के लिए जरूरी सभी तत्व सत्तू में पाए जाते हैं. सत्तू को खाने या पीने से लम्बे समय तक व्यक्ति को भूख नहीं लगती है. जो वजन कम करने में व्यक्ति की मदद करता है.

लिवर मजबूत बनता है 
सत्तू प्रोटीन का बढ़िया स्त्रोत है इसका सेवन करने से पेट की गड़बड़ियों को भी ठीक किया जा सकता है. इसे खाने या पिने से लिवर मजबूत होता है और एसिडिटी की समस्या दूर होती है इसे खाने से कब्ज भी नहीं होती.

सत्तू से मिलती है एनर्जी
चने के सत्तू में मिनरल्स, आयरन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस पाया जाता है जो आपके शरीर की थकान मिटाकर आपको इंस्टेंट एनर्जी देने का काम करता है.

पेट को ठंडा रखकर लू से बचाता है
सत्तू की तासीर ठंडी होने की वजह से गर्मियों में इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है. यह पेट को ठंडा रखने में भी मदद करता है जिसकी वजह से व्यक्ति को लू नहीं लगती है. सत्तू शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है, जिससे पेट संबंधी कई बीमारियों से बचाव होता है.

एनीमिया से रखें दूर सत्तू
शरीर में खून की कमी होने पर व्यक्ति एनीमिया से पीड़ित होता है. ऐसा होने पर रोजाना पानी में सत्तू मिलाकर पीने से काफी लाभ मिलता है.

डायबिटीज की समस्या
सत्तू में मौजूद बीटा-ग्लूकेन शरीर में बढ़ते ग्लूकोस के अवशोषण को कम करके ब्लड में शुगर लेवल को नियंत्रित रखते हैं. सत्तू का सेवन रोजाना करने से मधुमेह रोगी डायबिटीज को काफी हद तक नियंत्रित कर सकता है. ध्यान रखें इस रोग से पीड़ित लोगों को चीनी वाले सत्तू का सेवन नहीं करना चाहिए.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें)



Source link