In Tehsil Camp, Ashek Nagar Vasians stopped the work of putting transformer bait and grill on the road | तहसील कैंप में अशाेक नगर वासियाें ने रुकवाया सड़क पर रखे ट्रांसफार्मर के चाराें ओर ग्रिल लगाने का काम

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपतएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
पानीपत. अशाेक नगर में ट्रांसफार्मर के चाराें ओर ग्रिल लगाने का विरेाध करते क्षेत्रवासी। - Dainik Bhaskar

पानीपत. अशाेक नगर में ट्रांसफार्मर के चाराें ओर ग्रिल लगाने का विरेाध करते क्षेत्रवासी।

  • ट्रांसफार्मर शिफ्टिंग की मांग कर रहे क्षेत्रवासियाें ने सांसद संजय भाटिया काे पत्र लिख मांगा सहयाेग

तहसील कैंप की अशाेक नगर मार्केट में लगे ट्रांसफार्म के चाराें और ग्रिल लगने का काम क्षेत्रवासियाें ने रुकवा दिया। क्षेत्रवासियाें का कहना है कि वे इस ट्रांसफार्मर की शिफ्टिंग की मांग लंबे समय से करते आ रहे हैं। ऐसे में बिजली निगम अधिकारी इसे शिफ्ट करने की बजाय ग्रिल लगाकर बस औपचारिकता पूरी करना चाहते हैं।

अशाेक नगर मार्केट एसोसिएशन प्रधान हीरा कपूर का कहना है कि सांसद संजय भाटिया काे पत्र लिखकर ट्रांसफार्मर शिफ्टिंग की मांग उठाई है। सांसद ने ही फाेन करके काम भी रुकवाया है। मार्केट से 150 मीटर दूर ही पार्क के पास पहले से लगे ट्रांसफार्मर के पास इसे भी लगाना है। इसके लिए जगह भी पर्याप्त है। इन सब बाताें काे ध्यान में रखते हुए ही एसोसिएशन शिफ्टिंग की मांग कर रही है।

अधिकारियाें ने आदेश दिए, कर्मचारियों ने भ्रम फैला रुकवाया काम

बाजार एसोसिएशन की मांग पर बिजली अधिकारियाें ने ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने के लिए बजट भी पास करवा लिया है। इसके लिए करीब 2.50 लाख रुपए का एस्टिमेट पास हुआ है। शिफ्टिंग का काम बिजली निगम के 2 जेई व अन्य कर्मचारियों ने रुकवाया है। इन्हाेंने घराें के अागे गड्ढ़े खाेदकर लाेगाें में भ्रम पैदा कर दिया। इसी कारण लाेगाें ने डर के मारे काम रुकवा दिया था। हमारी मांग है कि काम काे नियमित तरीके से शिफ्टिंग करके ही पूरा किया जाए।

सांसद के कहने पर वापस लाैटी टीम

क्षेत्रवासी प्रधान हीरा कपूर, गाैरव, अंशुमन नारंग, राेहित कुमार, देंवेंद्र सिंह, सारिका व जगदीश ने बताया कि उन्हाेंने सांसद संजय भाटिया काे ऑनलाइन माध्यम से मांगपत्र भेजा। इसी पर संज्ञान लेते हुए सांसद ने बिजली निगम की टीम काे फाेन करके काम रुकवा दिया।

हर तरह से काम करने काे तैयार हैं : एसडीओ

ट्रांसफार्मर से हादसे हाेने का डर लगा रहता है। लाेगाें की शिकायत भी आती रहती है। काेई अप्रिय घटना न हाे, इसलिए बिजली िनगम शिफ्ट करने काे भी तैयार है। जब तक यह शिफ्ट नहीं हाे जाता, तब तक इसके चाराें काे ग्रिल लग जाएगी ताे हादसाें का खतरा खत्म हाे जाएगा। पार्क वाली जमीन के पास स्थानीय लाेग नहीं लगने दे रहे। बाजार वाले बदलवाने पर अड़े हैं। दूसरे पक्ष के लाेग शिफ्ट नहीं हाेने दे रहे हैं। जतिन जांगड़ा, एसडीओ, बिजली निगम, सिटी सब डिविजन।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply