In case of emergencies anywhere in the tricity, the concerned authorities will provide oxygen, medicines, medical equipments like ventilators etc. to each other to avoid any untoward incident. | मीटिंग में हुआ फैसला- इमरजेंसी में एक दूसरे को करेंगे ऑक्सीजन,दवाओं और इक्विपमेंट में मदद;हफ्ते में दो बार DC और DHS करेंगे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • In Case Of Emergencies Anywhere In The Tricity, The Concerned Authorities Will Provide Oxygen, Medicines, Medical Equipments Like Ventilators Etc. To Each Other To Avoid Any Untoward Incident.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
बैठक में पंजाब की चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन, हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी विजय वर्धन, चंडीगढ़ के एडवाइजर मनोज परिदा और UT के सीनियर स्टैंडिंग काउंसिल भी मौजूद रहे। - Dainik Bhaskar

बैठक में पंजाब की चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन, हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी विजय वर्धन, चंडीगढ़ के एडवाइजर मनोज परिदा और UT के सीनियर स्टैंडिंग काउंसिल भी मौजूद रहे।

ट्राईसिटी यानी चंडीगढ़, मोहाली और पंचकूला में कोरोना इमरजेंसी की स्थिति से निपटने के लिए अब अफ्सर मिलकर काम करेंगे। ट्राईसिटी में कहीं भी इमरजेंसी की स्थिति में संबंधित अथॉरिटीज एक दूसरे को ऑक्सीजन,मेडिसिन और मेडिकल इक्विपमेंट्स मोहय्या करवाएंगे। इसके साथ ही वॉर रूम मीटिंग्स के अलावा चंडीगढ़, पंचकूला और मोहाली के DC हफ्ते में दो बार मीटिंग कर लॉकडाउन रिस्ट्रिक्शंस, हॉस्पिटल मैनेजमेंट,सप्लाई मैनेजमेंट और वैक्सीन आदि जैसे कोविड संबंधित मुद्दों पर कोआर्डिनेट करेंगे।

पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश पर मंगलवार को पंजाब राज भवन में पंजाब के गवर्नर और चंडीगढ़ के प्रशासक VP सिंह बदनोर की अध्यक्षता में ट्राईसिटी में यूनिफॉर्म कोरोना मेजर्स पर चर्चा के लिए हुई मीटिंग में ये फैसला लिया गया है। बैठक में पंजाब की चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन, हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी विजय वर्धन, चंडीगढ़ के एडवाइजर मनोज परिदा और UT के सीनियर स्टैंडिंग काउंसिल भी मौजूद रहे। इस दौरान ये फैसला भी लिया गया है कि चंडीगढ़, पंचकूला और चंडीगढ़ के DHS भी PGI द्वारा दी जाने वाली गाइडेंस और कंसल्टेशन के अंतर्गत कोविड मरीजों के उपचार में यूनिफॉर्म और कोआर्डिनेटेड अप्रोच पर फैसला करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दो बार मुलाकात करेंगे।

इस दौरान बदनोर ने कहा कि पैनडेमिक से निपटने के लिए पहले ही उनकी अध्यक्षता में वाॅर रूम मीटिंग्स हो रही हैं जिसमें UT प्र्शासन के सीनियर अफसर,PGI समेत तीनों मेडिकल इंस्टीट्यूशंस के सीनियर डॉक्टर और चंडीगढ़, पंचकूला व मोहाली के DC वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जिरए इसमें शामिल होते हैं। एक दूसरे से विचार-विमर्श के बाद ही फैसले लिए जाते हैं। उन्होंने आगे कहा कि पूरे रीजन में कोविड से निपटने के लिए वे लगातार पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से संपर्क में हैं। मीटिंग में ये फैसला भी लिया गया कि PGI के लिए 5 MT लिक्विड ऑक्सीजन के अलग से कोटे के लिए गुजारिश की जाएगी।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply